Friday, March 13, 2015

Chandrashtottar ShatNamavali चंद्र अष्टोत्तर शतनामावलि


Chandrashtottar ShatNamavali 
Chandrashtottar ShatNamavali is in Sanskrit. These are 109 names of God Chandra. If Chandra or Moon is affected by or with one or many Planets such as Rahu, Ketu, Mars, Saturn or Harshal; in any Horoscope then such horoscopes indicates bad effects of the above Planets. To avoid that it is better to recite these names of God Chandra daily.
चंद्र अष्टोत्तर शतनामावलिहीः
१) ॐ श्रीमते नमः २) ॐ शशधराय नमः ३) ॐ चन्द्राय नमः
४) ॐ ताराधिशाय नमः ५) ॐ निशाकराय नमः ६) ॐ सुखनिधये नमः
७) ॐ सदाचाराय नमः ८) ॐ सत्पतये नमः ९) ॐ साधुपूजिताय नमः
१०) ॐ जितेन्द्रियाय नमः ११) ॐ जयोद्योगाय नमः १२) ॐ ज्योतिश्र्चक्र प्रवर्तकाय नमः १३) ॐ विकर्तनानुजाय नमः १४) ॐ वीराय नमः १५) ॐ विश्र्वेशाय नमः १६) ॐ विदूशाम्पतये नमः 
१७) ॐ दोषकराय नमः १८) ॐ दुष्टदूराय नमः १९) ॐ पुष्टिमते नमः
२०) ॐ शिष्टपालकाय नमः २१) ॐ अष्टपूर्तिप्रियाय नमः २२) ॐ अनंताय नमः २३) ॐ कष्टदारु कुठारकाय नमः २४) ॐ स्वप्रकाशाय नमः २५) ॐ प्रकाशमने नमः २६) ॐ द्युचराय नमः २७) ॐ देवभोनाय नमः २८) ॐ कलाधराय नमः २९) ॐ कालहेतवे नमः ३०) ॐ कामकृते नमः ३१) ॐ कामदायकाय नमः ३२) ॐ मृत्युसहकाराय नमः ३३) ॐ अमर्त्याय नमः ३४) ॐ नित्यानुष्ठान दायकाय नमः ३५) ॐ क्षपकाराय नमः ३६) ॐ क्षीणपापाय नमः ३७) ॐ क्षयवृद्धि समन्विताय नमः ३८) ॐ जयवत्रिकाय नमः ३९) ॐ शुचये नमः ४०) ॐ शुभ्राय नमः ४१) ॐ जयिने नमः ४२) ॐ जयफलप्रदाय नमः ४३) ॐ सुधामयाय नमः ४४) ॐ सुरस्वामिने नमः ४५) ॐ भक्तानाम इष्ट दायकाय नमः 
४६) ॐ भुक्तिदाय नमः ४७) ॐ मुक्तिदाय नमः ४८) ॐ भद्राय नमः 
४९) ॐ भक्तदारिद्र्य भन्जनाय नमः ५०) ॐ सामगानप्रियाय नमः 
५१) ॐ सर्वरक्षकाय नमः ५२) ॐ सागरोद्भवाय नमः ५३) ॐ भयान्तकृते नमः ५४) ॐ भक्तिगम्याय नमः ५५) ॐ भवबन्ध विमोचकाय नमः ५६) ॐ जगत्प्रकाश किरणाय नमः ५७) ॐ जगदानन्द किरणाय नमः ५८) ॐ निशापत्नाय नमः ५९) ॐ निराहाराय नमः ६०) ॐ निर्विकाराय नमः ६१) ॐ निरामयाय नमः 
६२) ॐ भूछायाच्छादिताय नमः ६३) ॐ भव्याय नमः ६४) ॐ भुवन प्रतिपालकाय नमः ६५) ॐ सकलार्तिहाराय नमः ६६) ॐ सौम्य जनकाय नमः ६७) ॐ साधु वन्दिताय नमः ६८) ॐ सर्व गमज्ञाय नमः
६९) ॐ सर्वज्ञाय नमः ७०) ॐ सनकादि मुनिस्तुताय नमः 
७१) ॐ शीतछत्र ध्वजोपेताय नमः ७२) ॐ शीतान्गाय नमः 
७३) ॐ शीत भूषणाय नमः ७४) ॐ श्र्वेत माल्याम्बर धराय नमः 
७५) ॐ श्र्वेत गन्धानुलेपनाय नमः ७६) ॐ दशस्वरथ समृधाय नमः 
७७) ॐ दंडपाणये नमः ७८) ॐ धनुर्धराय नमः ७९) ॐ कुंड पुश्योज्ज्वलकराय नमः ८०) नयनाब्ज समुद्भवाय नमः 
८१) ॐ आत्रेय गोत्रजाय नमः ८२) ॐ अत्यन्त विनयाय नमः ८३) ॐ प्रिय दायकाय नमः ८४) ॐ करुणा रस संपूर्णाय नमः ८५) ॐ कर्कट प्रभवे नमः ८६) ॐ अव्ययाय नमः ८७) ॐ चतुराश्रसानुराधाय नमः 
८८) ॐ चतुराय नमः ८९) ॐ दिव्य वाहनाय नमः ९०) ॐ विवस्वन् मंडलज्ञेयवसाय नमः ९१) ॐ वसु समृद्धिदाय नमः ९२) ॐ महेश्र्वर प्रियाय नमः ९३) ॐ दन्ताय नमः ९४) ॐ मेरु गोत्र प्रदक्षिणाय नमः 
९५) ॐ ग्रह मंडल मध्यस्थाय नमः ९६) ॐ ग्रसितारकाय नमः 
९७) ॐ ग्रहाधिपाय नमः ९८) ॐ द्विजराजाय नमः ९९) ॐ द्युतिलकाय नमः १००) ॐ द्विभुजाय नमः १०१) ॐ द्विज पूजिताय नमः 
१०२) ॐ औडम्बर नागवशाय नमः १०३) ॐ उदाराय नमः १०४) ॐ रोहिणि पतये नमः १०५) ॐ नित्योदयाय नमः १०६)ॐ मुनि स्तुत्याय नमः १०७) ॐ नित्यानंद फलप्रदाय नमः १०८) ॐ सकल आह्लादन कराय नमः १०९) ॐ फालशेध्म प्रियाय नमः 
॥ इति श्रीचंद्राष्टोत्तर शतनामावलि संपूर्णा ॥   

Chandrashtottar ShatNamavali 
चंद्र अष्टोत्तर शतनामावलि


Custom Search
Post a Comment